Suresh Raina – क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में शतक लगाने वाले प्रथम भारतीय बल्लेबाज

Sursh Raina – क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में शतक लगाने वाले प्रथम भारतीय बल्लेबाज : जैसा कि आप सभी जानते है कि क्रिकेट को 3 फॉर्मेट में बांटा गया है। टेस्ट क्रिकेट, वनडे क्रिकेट और T20 क्रिकेट हालिया दौर में इन तीनों ही फॉर्मेट के लिए कुछ अलग और चुनिंदा खिलाड़ी होते हैं। लेकिन कुछ साल पहले तक जो खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन करता था उसके टेस्ट टीम, वनडे टीम और T20 टीम में भी अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका मिलता था। टीम इंडिया के बेहतरीन मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज Suresh Raina ने अपने डेब्यू के बाद से लेकर अगले 8–10 सालों तक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपनी जगह को बरकरार रखा इस दौरान वह क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में भी खेले। रैना ने भारत के लिए 18 टेस्ट, 226 वनडे और 78 T20 मुकाबले अब तक खेले है।

Raina ने अपने टेस्ट कैरियर में 1 Century, वनडे में 5 और T20 में भी 1 शतक लगाया है। Suresh Raina भारत की ओर से क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में शतक लगाने वाले पहले बल्लेबाज हैं। सुरेश रैना के बाद ये कारनामा केएल राहुल ने भी किया है जो टेस्ट, वनडे और T20 में शतक जड़ चुके हैं।

Suresh Raina का पहला टेस्ट शतक

2010 में टीम इंडिया महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में 3 टेस्ट की द्विपक्षीय सीरीज के लिए श्रीलंका गयी थी। पहले टेस्ट में भारत को श्रीलंका के हाथों हार का सामना करना पड़ा था। दूसरा टेस्ट कोलंबो में खेला जा रहा था। इस मुकाबले से सुरेश रैना टेस्ट क्रिकेट में अपना डेब्यू कर रहे थे।

मैच में श्रीलंका ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए पहली पारी में 642 रन बनाकर पारी घोषित की थी, जवाब में भारतीय टीम ने 707 रन बनाएं थे। भारत की इस पारी में सचिन तेंदुलकर ने 202, वीरेंद्र सहवाग ने 99 रन की पारी खेली थी और इसी पारी के दौरान सुरेश रैना ने 228 गेंदों में 120 रन बनाएं थे। हालांकि अंत मे ये मैच ड्रॉ पर खत्म हुआ था।

Suresh Raina का पहला वनडे शतक

हरफनमौला खिलाड़ी सुरेश रैना ने अपने वनडे डेब्यू से 2 साल 10 महीने और 25 दिन के बाद एशिया कप के दौरान अपना पहला वनडे Century लगाया था। एशिया कप के ग्रुप B के मैच नंबर 4 में भारत का मुकाबला हांगकांग की टीम के साथ हुआ था।

ये मैच पाकिस्तान के कराची नेशनल स्टेडियम में खेला जा रहा था। टीम इंडिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवर में 4 विकेट खोकर 374 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया था। भारतीय टीम की ओर से ओपनर गौतम गंभीर ने 51, वीरेंद्र सहवाग ने 78, कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने नाबाद 109 और सुरेश रैना ने 101 रन बनाएं थे।

रैना ने 68 गेंदों में 6 छक्के और 6 चौके सहित 148.52 की स्ट्राइक रेट से तूफानी पारी खेली थी। इस मुकाबले को भारतीय टीम ने 256 रन के बड़े अंतर से जीत लिया था। मैच में सुरेश रैना को मैन ऑफ द मैच भी चुना गया था।

ऐसी थी Suresh Raina की पहली T20 शतकीय पारी

T20 में सुरेश रैना के बल्ले से Century, ICC T20 वर्ल्ड कप 2010 के दौरान निकला था। ग्रुप C के 5वें मैच में दक्षिण अफ्रीका और टीम इंडिया का आमना सामना सेंट लुइस मैदान पर हुआ था। दक्षिण अफ्रीका ने इस मैदान पर टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया था। टीम इंडिया की शुरुआत अच्छी नही हुई थी 32 के स्कोर पर भारत ने दोनो ओपनर गवा दिए थे।

लेकिन नंबर 3 पर बल्लेबाजी के लिए उतरे सुरेश रैना ने एक छोर संभाले रखा और युवराज सिंह के साथ मिलकर टीम के स्कोर को 100 के पार पहुँचाया। सुरेश रैना 20वें ओवर तक टिके रहे और 60 गेंदे खेलकर 9 चौके और 5 छक्के जड़ते हुए 101 रन बनाने में सफल रहे। सुरेश रैना की इस शतकीय पारी की वजह से टीम इंडिया 186 रन बना पाई।

जवाब में दक्षिण अफ्रीका की टीम 172 रन ही बना पाई इस तरह से भारत 14 रन से मैच जीत गया था। सुरेश रैना 101 रन की पारी खेलकर मैन ऑफ द मैच चुने गए। इसके साथ ही सुरेश रैना T20 में Century लगाने वाले और क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में शतक लगाने वाले पहले भारतीय भी बने।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *